गाँधी जयंती पर छत्तीसगढ़ सरकार ने 5 नई योजनाओं की शुरुआत की : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जयंती पर छतीसगढ़ सरकार ने जनता के लिए 5 बड़ी महत्व पूर्ण योजनाओं को शुरआत की  मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान , मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना , मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना , यूनिवर्सल पीडीएस योजना , मुख्यमंत्री वार्ड कार्यलय | इस योजनाओं को शुरआत करने से सरकार का मानना हैं की छत्तीसगढ़ के लोगों को लोगों को पोषण व शिक्षा के  दिशा में काफी मदद मिलेगी |

गाँधी जयंती पर छत्तीसगढ़ सरकार ने 5 नई योजनाओं की शुरुआत की :

5 बड़ी योजनाओं के लाभ 

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान

एक सर्वे के अनुसार वर्तमान में छत्तीसगढ़ में 5 वर्ष से कम आयु के लोग 37.6 प्रतिशत बच्चे कुपोषित से पीड़ित हैं और 15 से 49 वर्ष की 41.5% महिलाएं एनीमिया से पीड़ित हैं इस योजना के अनुसार इनको लाभ तभी मिल सकता है जब लोग शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होंगे उनका योगदान देश की अर्थव्यवस्था में मिल सके | इस योजना के अंतर्गत आने वाले 3 वर्ष में प्रदेश को कुपोषण और एनीमिया से मुक्ति की योजना तैयार की गई है इस योजना में एक से 5 वर्ष के कुपोषित बच्चों और कुपोषण और एनीमिया से पीड़ित 15से 49 वर्ष की महिलाओं को पंचायतों और महिला समूह के माध्यम से पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जाएगा इस अभियान में अधिक से अधिक जन भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी ताकि यह अभियान अपने उद्देश्य में सफल हो सके |

मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना

प्रदेश के आदिवासी और वनांचल क्षेत्रों में अस्पताल दूर होने कारण लोगों को सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाती | ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों का हाट बाजार में आना जाना लगा रहता है | इसे देखते हुए राज्य सरकार ने यह फैसला लिया हैं हाट बाजार में मोबाइल  मेडिकल टीम भेजकर लोगों को पर्याप्त सुविधाए उपलब्ध कराई जाए | यह स्वास्थ विभाग की टीम , चिकित्सको और आवश्यक उपकणों सहित पहुंचकर लोगों का इलाज कर रही है | साथ ही लोगों रक्त परीक्षण सहित अन्य पैथोलॉजी जांच भी करके लोगों को निशुल्क दवा भी  प्रदान कर रही है | 

मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना

प्रदेश के आदिवासी और वनांचल क्षेत्रों और दूर स्थानों पर मोबाइल मेडिकल टीम भेजकर लोगों के किए गए इलाज के अच्छे परिणाम को देखते हुए सरकार ने  शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना को लागू किया | इस योजना में प्रदेश के 13  निगमों स्लम क्षेत्रों  सप्ताह में एक दिन सुबह में  8 बजे से दोपहर 2 बजे तक मोबाइल मेडिकल टीम वहा रहकर लोगों को इलाज करेगी | साथ ही लोगों रक्त परीक्षण सहित अन्य पैथोलॉजी जांच भी करके लोगों को निशुल्क दवा भी प्रदान करेगी | प्रदेश के 13 निगमों में करीब एक लाख 71 हजार परिवार स्लम क्षेत्रों में रहते है | इन परिवारों के लगभग 7 लाख 80 हजार लोगों के उपचार व्यवस्था के लिए छत्तीसगढ़ सरकार स्वास्थ्य सेवाओं के साथ ही मोबाइल टीम उपलब्ध करा रही हैं | 

यूनिवर्सल पीडीएस योजना

राज्य के सभी परिवारों को खाद्य सुरक्षा उपलब्ध कराने हेतु सार्वभौम पीडीएस का शुभारंभ प्रदेश में महात्मा गाँधी जयंती के दिन हुआ | सार्वभौम पीडीएस के अंतर्गत प्राथमिकता राशनकार्डो में खाद्यान्न पात्रता में वृद्धि के साथ -साथ अब राज्य सरकार व्दारा बीपीएल के साथ एपीएल परिवारों को भी खाद्यान प्रदाय किया जाएगा | इस स्कीम में प्राथमिकता राशनकार्डो की खाद्यान की पात्रता में वृद्धि की गई है जिसमे एक सदस्यीय परिवार को 10 किलो , 2 सदस्यीय परिवार को 20 किलो 3 से 5 सदस्यीय परिवार के 35 किलो तथा 5 सदस्यीय परिवार को 7 किलों प्रति सदस्य चावल 1 रूपये देने का प्रवधान है | 

मुख्यमंत्री वार्ड कार्यलय

लोगों की सेवाओं की तत्काल सुविधाओं को उपलब्ध कराने और उनकी माँगो के अनुरूप सुविधाएं उपलब्ध करने के शहरों में मुख्यमंत्री वार्ड शुरू किया गया |पहले चरण में प्रदेश के 13 नगर निगमों में ये कार्यलय काम करना शुरू कर देंगे | इन कार्यलय  के माध्यम से पर्यावरण ,स्ट्रीट लाइट ,सड़क रखरखाव,नालियों की सफाई और जल आपूर्ति संबंधित शिकायतों का समय समय पर हल किया जायेगा | और साथ ही इन कार्यलयों में लोगों के नए व्यापर लाइसेंस , लाइंसेंस नवीनीकरण,सम्पत्ति कर , आदि अन्य सुविधाएं नागरिको मिलेगी | 

 

उपभोक्ताओं के शिकायत के लिए सरकार ने लॉन्च किया नया ‘उपभोक्ता ऐप