अयोध्या शहर में 4 लाख दीप जलाने विश्व गिनीज रिकॉर्ड : 26 अक्टूबर 2019 को अयोध्या शहर में सरयू नदी के पास 4 लाख मिटटी के दिये जलाने का विश्व गिनीज रिकॉर्ड बना | अयोध्या शहर में इस कार्यक्रम के आयोजन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया | योगी आदित्यनाथ सत्ता में आने का के बाद उनका यह तीसरा सबसे बड़ा महोत्सव था |

अयोध्या के राम मंदिर के पावन धरती पर इस कार्यक्रम में 4 लाख 9 हजार 965 दिप जलाये गए थे | जिसमें पिछला रिकॉर्ड 3 लाख 1186 का रिकॉर्ड तोड़कर नया रिकॉर्ड 4 लाख पर विश्व गिनीज बुक रिकॉर्ड बना | इस महोत्सव में खुशी में शामिल अयोध्या विश्व परिसर समेत विभिन्न कॉलेजों के शिक्षकों व लगभग छह हजार विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया | 

अयोध्या में प्रशिद्ध राम की जन्म भूमि पर दीपो के जलाने का महाउत्सव की तैयारी पिछले एक साल से की जारी थी | जिसमे से दीपों को जलाने की जिम्मेदारी अवध विवि प्रशासन को सौपी गई थी | जिसमें पिछले तीन दिनों से अवध विवि के 6 हजार वालियंटर एवं 150 से अधिक प्रोफेसर व अध्यापकों को सम्मलित किया गया था | इस दिन के कार्यक्रमों के लिए दीपों को जलाने के लिए तेल व बाती को लगाने में वलियंटरो सुबह से ही जुटे रहे | वलियंटरो की तरफ से 12 घाटों पर दीपों को सजाया गया था | 

इस कार्यक्रम में सरयू घाट पर आरती के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रिमोट से दीपोउत्सव का आगाज किया | इसके बाद आधे घंटे के भीतर सभी दिये जलाये गये | गिनीज बुक ऑफ़ रिकॉर्ड टीम ने दीपों की मैपिंग ड्रोन कैमरे से की | 

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड की शुरुआत 1955 में हुई थी | यह किताब एक रिकॉर्ड की किताब है जो हर साल मानव उपलब्धियों और प्राकृतिक दुनिया के चरम सूचीबद्ध करते हुए प्रकाशित की जाती है | यह 23 देशों में 100 देशों में प्रकाशित होता है | 

अयोध्या में , भगवान राम के जन्म स्थान पर भक्त सरयू नदी में डुबकी लगाते है | इस नदी का आध्यात्मिक महत्व है और यह महाकाव्य रामायण से संबंधित हैं | यह नदी भारतीय राज्यों उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से होकर गुजरती हैं | यह कर्णाली और महाकाली नदियों के संगम पर बनता है |  यह गंगा नदी एक एक सहायक नदी हैं | 

भारत के प्रवीण कुमार ने वुशु विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता